Abhilasha Ashumati Man Jagi

यशोदा की लालसा
अभिलाषा यशुमति मन जागी, मुसकाया जैसे ही लाला
कब तुतला करके मैया कह, ये मुझे पुकारेगा लाला
यह आयेगा दिन कब ऐसा, जब आँचल पकड़ेगा लाला
हठ कर गोदी में आने को, मचलेगा मेरा यह लाला
कब मंगलमय दिन आयेगा, हँस करके बोलेगा लाला

Leave a Reply

Your email address will not be published.