Sakhi Mharo Kanho Kaleje Ki Kor

प्राणनाथ कन्हैया
सखी म्हारो कान्हो कलेजे की कोर
मोर मुकुट पीतांबर सोहे, कुण्डल की झकझोर
वृंदावन की कुञ्ज-गलिन में, नाचत नंदकिशोर
‘मीराँ’ के प्रभु गिरिधर नागर, चरण-कँवल चितचोर

Leave a Reply

Your email address will not be published.