Jhula Jhule Shri Giridhari

झूला
झूला झूले श्री गिरधारी
मणिमय जटित हिंडोला बैठे, संग में प्राण पियारी
वाम भाग सोहत श्री राधा, पहन लहरिया सारी
शीतल मन्द सुगन्धित वायु, श्याम घटा मनहारी
कोकिल मोर पपीहा बोले, मधुर गान सुखकारी
फूल-हार, फूलों का गजरा, युगल रूप छबि न्यारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.